CISCE का फैसला , नर्सरी से आठवीं तक सभी स्कूलों में होगा एक जैसा सिलेबस

 अब तक देश भऱ के स्कूलों में अलग अलग सिस्टम के कारण हर स्कूल में अपने लेवल पर नर्सरी से आठवीं क्लस तक अलग अलग सिलेबस पढ़ाया जाता था लेकिन एेसा नहीं होगा । CISCE  काउंसिल के चेयरमैन डॉ.जी इमैनुअल  सीआईएससीई की ओर से किए जा रहे इस बदलाव की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि देश भर में काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन्स (CISCE) से संबद्ध स्कूलों में अगले सत्र से नर्सरी से कक्षा आठ तक कॉमन सिलेबस चलेगा।  अब तक बोर्ड सिर्फ 9 वीं से 12 वीं तक का सिलेबस ही जारी करता था। पहली बार नर्सरी से आठवीं तक का सिलेबस डिवेलप किया गया है। इसलिए अब स्कूलों को नर्सरी से बारहवीं तक का सिलेबस जारी होगा। हालांकि किताबें अब भी स्कूल अपने स्तर से तय कर सकेंगे। जिस प्रकाशक की किताबें निर्धारित सिलेबस कवर करती होंगी, स्कूल उन्हें ही पढ़ाने के लिए स्वतंत्र होंगे। सीबीएसई बोर्ड में 11वीं, 12 वीं में चलने वाली एनसीईआरटी की किताबें चलाने की मांग कई स्कूल कर चुके हैं। काउंसिल ने इन किताबों को रेफरेंस बुक के तौर पर चलाने की छूट दी है।

कक्षा 9 से 12 का कोर्स भी अपडेट 
डॉ.जी इमैनुअल ने  कहा कि   नीट और जेईई को ध्यान में रखते हुए कक्षा नौ से बारहवीं तक का सिलेबस भी अपडेट किया गया है। इन एग्जाम्स के काफी बिंदु सिलेबस में शामिल कर दिए गए हैं ताकि स्टूडेंट्स को अलग से कोचिंग की जरूरत न पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *